eng
competition

Text Practice Mode

साँई कम्‍प्‍यूटर टायपिंग इंस्‍टीट्यूट गुलाबरा छिन्‍दवाड़ा म0प्र0 संचालक:- लकी श्रीवात्री मो0नां. 9098909565

created Nov 25th 2022, 05:09 by Sai computer typing


2


Rating

364 words
13 completed
00:00
सभापति महोदय, इस देश के किसान को उसकी मेहनत का उचित मूल्‍य मिलना चाहिए, इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है। मैं इस सदन का ध्‍यान इस बात की और आकर्षित करना चाहता हूं कि जब-जब भी किसानों को दी जाने वाली सहायता की बात कहीं जाती है तो यहां पर कोई भी ठोस निर्णय नहीं लिया जाता है। आश्‍वासन तो बहुत दिए जाते हैं कि हम किसानों को उनके द्वारा पैदा किए गए अनाज का उचित मूल्‍य देंगे, उन्‍हें कृषि में काम आने वाले सामान को उचित मूल्‍य पर देंगे और उन्‍हें वे सभी सुविधाएं देंगे जो शहरों में रहने वाले लोगों को मिलती है, लेकिन मुझे दुख के साथ कहना पड़ता है। कि इस सदन में दिए गए आश्‍वासनों को कभी भी पूरा नहीं किया गया है। कई बार किसानों को बाढ़ से या सूखे से बहुत नुकसान उठाना पड़ता है, उस समय सरकार की ओर से उनको पूरी सहायता नहीं दी जाती है। एक तरफ तो किसानों को उनके द्वारा पैदा किए अनाज का उचित दाम भी नहीं मिलता है और दूसरी तरफ उनका बाढ और सूखे से बहुत नुकसान हो जाता है। ऐसी स्थिति में हमारे देश के  किसानों को बहुत कष्‍ट उठाने पड़ते है।  
महोदय, दिल्‍ली में किसानों के आंदोलन की बात हम सुनते है। बड़े दुख की  बात है। जहां तक मुझे मालूम है वहां किसानों को बहुत सारी सुविधाएं दी गई  है। वहां के किसानों को दिए गए ऋण माफ कर दिए गए हैं लेकिन उत्‍तर प्रदेश के किसानों को इस तरह की सुविधा अभी तक नहीं दी गई है। मैं महाराष्‍ट्र के किसानों से निवेदन करना चाहता हूं कि जो कुछ उनके दिया जा रहा है उससे उन्‍हें संतुष्‍ट होना चाहिए और देश के विकास में पूरी तरह से भाग लेना चाहिए। मैं कृषि मंत्रीजी से भी निवेदन करना चाहता हूं कि देश के प्रत्‍येक राज्‍य के किसानों को दी जाने वाली सहायता के विषय में जानकर प्राप्‍त करे और उपाए निकालें जिससे किसी को सहायता दी जा रही  है। मैं माननीय मंत्रीजी का आदर करता हूं। मैं समझता हूं कि उनके दिल में किसानों के लिए पूरी हमदर्दी है लेकिन उनके लाभ की योजनाओं को अच्‍छी तरह से लागू भी करना होगा।     

saving score / loading statistics ...