eng
competition

Text Practice Mode

साँई टायपिंग इंस्‍टीट्यूट गुलाबरा छिन्‍दवाड़ा म0प्र0 सीपीसीटी न्‍यू बैच प्रारंभ संचालक:- लकी श्रीवात्री मो0नां. 9098909565

created Jun 28th, 15:16 by lovelesh shrivatri


2


Rating

395 words
22 completed
00:00
हर कोई धन चाहता है, लेकिन कुछ ही लोगों को वास्‍तव में पता है कि इसे पाने के लिए क्‍या करने की जरूरत है। अमीर बनना भाग्‍य, कौशल, और धीरज का एक संयोजन है। अमीर, बनना आसान नही है। लेकिन निरंतर प्रयास करने से और सही जानकारी के साथ, यह निश्चित रूप से संभव है। ऐसे ढेर सारे छोटे-छोटे उपाय हैं जो आपको बड़े परिणाम दे सकते है। अमीर बनने के लिए सबसे पहले आपको आपके काम करने के तरीकों को बदलना पड़ेगा। क्‍योंकि जो आप अभी तक करते आए हैं वही आगे भी करते रहेंगे। उन सब पुराने तरीकों से आपको वही मिलेगा जो आप को अभी तक मिला है। इसलिए आपको नए उपायों को उपनाना पड़ेगा। आपको यह बात समझनी पड़ेगी कि भले ही हम सब के हालात एक जैसे हो लेकिन हम सब के पास 24 घण्‍टे बराबर हैं। चाहे वो अमिताभ बच्‍चन हो या अनिल अंबानी हो, सभी के पास समान समय होता है और यही 24 घण्‍टे तय करते हैं कि आप किस ओर बढ़ेंगे। यदि  हम इस समय का अच्‍छे से उपयोग करें तो हम अपने लक्ष्‍य को हासिल अवश्‍य कर सकते हैं। यह एक बहुत बड़ी सच्‍चाई है कि बड़े-से-बड़े आदमी ने अपने जीवन में जूते घिसे हैं और पसीना बहाया है। इसका मतलब है कि उन्‍होंने मेहनत की है और तभी जाकर वह अमीर और सफल बने हैं। अपनी गलतियों से सीखना और आगे बढ़ना भी अमीर बनने की तरफ एक अच्‍छी पहल है। हमेशा याद रखना कि रूका हुआ पानी और ठहरा हुआ इंसान दोनों सड़ जाते है। गिरना हार नहीं है पर गिरकर खड़े होना हार है। आपकी हार जितनी बड़ी होगी, आपकी सफलता उससे दोगुनी बड़ी होगी क्‍योंकि आप हार के जीते हैं और हार कर जीतने वाले को ही बाजगीर कहते है।  
हम सभी ने अपने जीवन में हार देखी है और सबसे ज्‍यादा सफल इंसान ने भी हार देखी होगी। एक नियम यह भी है कि हमें कभी भी अपनी हार को दूसरों पर नहीं डालना चाहिए क्‍योंकि ऐसा करने का मतलब होता है कि आप अपने आप को जिम्‍मेदार नहीं समझते हैं। इंसान का जीवन एक नाटक है जिसका मतलब है अटक। आप अटक गए तो आपके लिए समय थमेगा और ही दुनिया। इसके लिए आपको एक नियम बनाना होगा कि आप कभी भी दो शब्‍द नहीं कहेंगे, जैसे कि आज मेरा मन नहीं है।  

saving score / loading statistics ...